News

How a Young man was Blackmailed

News in Brief: A young man from Delhi got a friend request from a girl named Sonia (fictitious name) on Facebook. Seeing the friend request of a girl with a beautiful photo on Facebook, the young man befriended her. When he was online on Facebook at around 1.30 pm, Sonia asked for his WhatsApp number. Then the chat of the young man and Sonia started on WhatsApp. After a couple of days of romantic chat, one night, Sonia made a video call and started taking off her clothes. Within a short time, Sonia became nude and asked the young man to take off his clothes. The man followed the request of Sonia. The phone got disconnected after just 48 seconds of video call. Shortly after that the blackmailing started.

First Sonia threatened him to upload his nude video on social media and demanded money.

(Source: Times of India)

WeSeSo Analysis

This is a case of romantic trapping of young men and women.

There are cases of repeated blackmailing by the cyber criminals enacting different roles. For example, the man may get a call from a ‘police officer’, claiming that Sonia has filed a complaint against him for vulgar display of his body.

Police claims that such extortion cases have become quite rampant

WeSeSo Advice

  1. Never accept any friend request from unknown people. They may not be what they claim to be or what their profile/picture seem to be.
  2. Never expose your private parts or intimate activity on any electronic device, no matter whom you are sharing with. This includes exchange of vulgar text or picture too.  Such a data can be misused at a later stage causing serious harm or damage to your reputation.
  3. Remember –
  1. Speed of Internet is very fast and its reach is enormous. In a short span of time, the unwanted content can spread to millions of people across the world.
  2. The digital foot-print remains for all. Any promise of deletion of content by cyber criminals after the extortion is false.
  3. Hence under no circumstance you should share anything in cyber space that can cause embarrassment or harm at later stage.

Analysed By: WeSeSo Cyber Warriors & Expert 

0 152

कैसे एक युवक को ब्लैकमेल किया गया

संक्षिप्त समाचार : दिल्ली के एक युवक को फेसबुक पर सोनिया (काल्पनिक नामसे फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। फेसबुक पर खूबसूरत फोटो वाली इस लड़की की फ्रेंड रिक्वेस्ट देखकर युवक ने उससे दोस्ती कर ली। दोपहर को  करीब 1.30 बजे जब वह फेसबुक पर ऑनलाइन था  तो सोनिया ने उनका व्हाट्सएप नंबर मांगा। फिर व्हाट्सएप पर युवक और सोनिया की चैट शुरू हो गई। कुछ दिनों की रोमांटिक चैट के बाद एक रात सोनिया ने वीडियो कॉल की। कुछ रोमांस की बातों के बाद वह अपने कपड़े उतारने लगी।  कुछ ही देर में सोनिया नंगी हो गईं और युवक से कपड़े उतारने को कहा। उस आदमी ने सोनिया के अनुरोध को ख़ुशी खुशी मान लिया। महज 48 सेकेंड के वीडियो कॉल के बाद फोन कट गया। इसके कुछ देर बाद ही ब्लैकमेलिंग शुरू हो गई।

पहले सोनिया ने उसे धमकी दी कि वह उसका न्यूड वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर देगी और ऐसा नहीं करने के लिए उसने उससे रुपये की मांग की

(स्रोत: टाइम्स ऑफ इंडिया)

WeSeSo का विश्लेषण

यह युवक-युवती के रोमांटिक ट्रैप का मामला है।

साइबर अपराधियों द्वारा अलग-अलग भूमिका में बार-बार ब्लैकमेल करने के मामले सामने रहे हैं। उदाहरण के लिए, उस आदमी को एक 'पुलिस अधिकारी' का फोन सकता है, जिसमें दावा किया जा सकता है कि सोनिया ने उसके खिलाफ उसके शरीर के अश्लील प्रदर्शन के लिए शिकायत दर्ज की है। इस मामले को समाप्त करने के लिए उसे पैसे खर्च करने होंगे।

पुलिस का दावा है कि इस तरह की रंगदारी के मामले काफी तेजी से बढ़े हैं

WeSeSo की सलाह

1. कभी भी अनजान लोगों की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार करें। हो सकता है कि वे वह हों जो वे होने का दावा करते हैं या जो उनकी प्रोफ़ाइल/तस्वीर से प्रतीत होती है।

2. किसी भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण पर अपने निजी अंगों या अंतरंग गतिविधि को कभी भी उजागर करें, चाहे आप यह किसी के भी साथ साझा कर रहे हों। इसमें अश्लील टेक्स्ट  या तस्वीर का आदान-प्रदान भी शामिल है। इस तरह के डेटा का बाद में दुरुपयोग किया जा सकता है जिससे आपकी प्रतिष्ठा को गंभीर नुकसान हो सकता है।

3. याद रखें -

a) इंटरनेट की गति बहुत तेज है और इसकी पहुंच बहुत अधिक है। कम समय में, अवांछित सामग्री दुनिया भर में लाखों लोगों तक फैल सकती है।

b) डिजिटल फुटप्रिंट हमेश के लिए बना रहता है। जबरन वसूली के बाद साइबर अपराधियों द्वारा सामग्री को हटाने का कोई भी वादा सच नहीं है

) इसलिए किसी भी परिस्थिति में आपको साइबर स्पेस में कुछ भी साझा नहीं करना चाहिए जिससे बाद में शर्मिंदगी या नुकसान हो सकता है।

विश्लेषक: WeSeSo साइबर योद्धा और विशेषज्ञ

0 152